छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल | हिंदी शायरी महफिल

chhattisgarhi shayari mahafil छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल 2021

छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल : दिल को छू लेने वाली बेहतरीन chhattisgarhi shayari mahafil, छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल 2021, Best Chhattisgarhi Shayari mahafil, famouse hindi Shayari mahafil , आदि बेहतरीन से बेहतरीन छत्तीसगढ़ी शायरी,  देखने को  मिलेगी जिसे आप अपने मित्रो, व अपने प्यार के साथ शेयर कर सकते जिसे और आसान बनाने के लिए हमने आपके लिए facebook, whatsApp शेयरिंग और copy के ऑप्शन दिए है जिसे आप बस एक क्लिक में अपने मित्रो, व अपने प्यार के साथ शेयर कर सकते छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल के जरिये रंग जमा सकते है

छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल | chhattisgarhi shayari mahafil

कभू चटकन उबाहूँ त
मुस्कुरा के गोठिया देबे
भुला जाहँव रिस-पित ल
मया के गोठ गोठिया देबे

बेस्ट छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल

अरे छत्तीसगढ़ वालो के चेहरे पे हमेशा स्माइल रहती है 
तभी तोह सारी दुनिया कहती है छत्तीसगढ़िया सबले बढिया

छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल | हिंदी शायरी महफिल

chhattisgarhi shayari mahafil, छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल

बुलाती है मगर जाने का नहीं
ये दुनिया है इधर जाने का नहीं
मेरे बेटे किसी से इश्क़ कर
मगर हद से गुज़र जाने का नहीं
ज़मीं भी सर पे रखनी हो तो रखो
चले हो तो ठहर जाने का नहीं
सितारे नोच कर ले जाऊंगा
मैं खाली हाथ घर जाने का नहीं
वबा फैली हुई है हर तरफ
अभी माहौल मर जाने का नहीं
वो गर्दन नापता है नाप ले
मगर जालिम से डर जाने का नहीं

 छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल

सिर्फ खंजर ही नहीं आँखों में पानी चाहिए,
ऐ खुदा दुश्मन भी मुझको खानदानी चाहिए
मैंने अपनी खुश्क आँखों से लहू छलका दिआ,
एक समन्दर कह रहा था मुझको पानी चाहिए।
सिर्फ खबरों की ज़मीने देके मत बहलाइये
राजधानी दी थी हमने, राजधानी चाहिए

 छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल
छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल  हिंदी  शायरी महफिल

हम अपनी जान के दुश्मन को अपनी जान कहते हैं
मोहब्बत की इसी मिट्टी को हिन्दुस्तान कहते हैं
जो दुनिया में सुनाई दे उसे कहते है ख़ामोशी
जो आँखों में दिखाई दे उसे तूफान कहते है
जो ये दीवार का सुराख है साज़िश का हिस्सा है
मगर हम इसको अपने घर का रोशनदान कहते हैं
ये ख्वाहिश दो निवालों की हमें बर्तन की हाजत क्या
फ़क़ीर अपनी हथेली को ही दस्तरख्वान कहते हैं
मेरे अंदर से एक-एक करके सब कुछ हो गया रुखसत
मगर एक चीज़ बाकी है जिसे ईमान कहते हैं

 छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल

गुलाब ख़्वाब दवा ज़हर जाम क्या-क्या है
मैं आ गया हूँ बता इन्तज़ाम क्या-क्या है
फक़ीर शेख कलन्दर इमाम क्या-क्या है
तुझे पता नहीं तेरा गुलाम क्या क्या है
अमीर-ए-शहर के कुछ कारोबार याद आए
मैँ रात सोच रहा था हराम क्या-क्या है

 छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल
chhattisgarhi mahafil shayari

अगर खिलाफ है होने दो जान थोड़ी है,
ये सब धुँआ है कोई आसमान थोड़ी है |
लगेगी आग तो आएंगे घर कई ज़द में,
यहाँ पे सिर्फ हमारा मकान थोड़ी है |
हमारे मुह से जो निकले वही सदाकत है,
हमरे मुह में तुम्हारी जबान थोड़ी है |
मै जानता हूँ कि दुश्मन भी कम नहीं है,
लेकिन हमारी तरह हथेली पे जान थोड़ी है |
आज शाहिबे मसनद है कल नहीं होंगे,
किरायेदार है जात्ती मकान थोड़ी है |
सभी का खून है शामिल इस मिट्टी में,
किसे के बाप का हिन्दुस्तान थोड़ी है |

 छत्तीसगढ़ी शायरी महफिल

Treading

#CG SHAYARI CG Birthday Wishesh

जन्मदिन के गाड़ा - गाड़ा बधाई हो मोर भाई सदैव आप मन के उपर महादेव के कृपा अउ आशीर्वाद बने रहाए ''CG Birthday Shayari''

#CG SHAYARI cg chutkule cg funny jokes chhattisgarhi jokes

कभू कभू मन के बात ला बताए ला लगथे, कभू-कभू मया मे खिसीयाय ला लगथे, कभू तो मैसेज कर दे करव संगवारी.. एकरो बर तुमन ला जोजीयाय ला लगथे। ????????????????????

#CG SHAYARI CG LOVE SHAYARI

करले तै भरेसा संगी मन म तोला बसाहुँ। आँखि आँखि म झूलत रथस रानी तोला बनाहुँ। ''छत्तीसगढ़ी लव शायरी''

#CG SHAYARI Chhattisgarhi taali Shayari

कइसे बइठे हौ अल्लर असन,थोरकन अपन मया दिखावा।परस्तुती पसन्द आइस हो ही त, ताली तो जरूर बजावा।। ???? ???? ???? ????

More Posts
x